Menu

संघ राज्‍य क्षेत्र

संघ राज्‍य क्षेत्रों का प्रशासन उस दायरे तक कार्य करते हुए जो वह उचित समझे, उसके द्वारा नियुक्‍त प्रशासक द्वारा किया जाता है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, दिल्‍ली और पांडिचेरी के प्रशासकों को लेफ्टीनेंट गवर्नर का पद का पद दिया गया है। पंजाब का राज्‍यपाल समवर्ती रूप से चंडीगढ़ का प्रशासक है। दादरा और नगर हवेली के प्रशासक समवर्ती रूप से दमन और दीव का प्रशासक है। लक्षद्वीप का अलग प्रशासक है।

दिल्‍ली राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र और पांडिचेरी संघ राज्‍य क्षेत्र में एक विधान सभा और मंत्रियों की परिषद है। पांडिचेरी संघ राज्‍य क्षेत्र की विधान सभा संघ राज्‍य क्षेत्र के प्रशासन में लागू होने वाले इन मामलों के विषय में संविधान की सातवीं अनुसूची में सूची 2 या सूची 3 में बताए गए मामलों के संदर्भ में कानून बना सकती है। दिल्‍ली राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र की विधान सभा को भी सूची 2 की प्रविष्टि 1, 2 और 18 के अतिरिक्‍त अधिकार हैं जो विधान सभा की विधायी दक्षता के अंतर्गत नहीं है। विधेयकों की कुछ विशिष्‍ट श्रेणियों में, यद्यपि विधान सभा में प्रस्‍तुत करने के पहले केन्‍द्रीय सरकार के पूर्व अनुमोदन की आवश्‍यकता होती है। पांडिचेरी संघ राज्‍य क्षेत्र और राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्‍ली की विधान सभाओं द्वारा पारित कुछ विधेयकों को राष्‍ट्रपति महोदय के विचार और अनुमोदन के लिए आरक्षित करने की आवश्‍यकता होती है।